प्रधान मंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान (पीएमजीदिशा): ऑनलाइन आवेदन पत्र


पीएमजीदिशा ऑनलाइन आवेदन करें | ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान प्रधानमंत्री आवेदन पत्र | प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान हिंदी में | ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान प्रधानमंत्री ऑनलाइन आवेदन

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान इसकी शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने लोगों को डिजिटल रूप से साक्षर बनाने के लिए की है। इस अभियान के तहत केंद्र सरकारआरए ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिक कंप्यूटर और डिजिटल उपकरणों जैसे टैबलेट, स्मार्टफोन आदि पर नागरिकों को प्रशिक्षण देना, ईमेल भेजना और प्राप्त करना, इंटरनेट का संचालन करना, इंटरनेट से सरकारी सुविधाओं का लाभ उठाना, इंटरनेट पर जानकारी ईमेल भेजने और प्राप्त करने, इंटरनेट चलाने, लाभ उठाने के लिए प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। इंटरनेट से सरकारी सुविधाएं, इंटरनेट पर जानकारी खोजें और ऑनलाइन भुगतान करें आदि।

पीएमजीदिशा 2021

यह अभियान देश के ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिकों के लिए लागू किया गया है। पीएमजीदिशा 2021 योजना का लाभ ग्रामीण क्षेत्र के उन परिवारों को मिलेगा। जिसके परिवार का सदस्य डिजिटल रूप से साक्षर नहीं है और उस परिवार में किसी को भी कंप्यूटर का ज्ञान नहीं है (सदस्य को डिजिटल रूप से साक्षर नहीं होना चाहिए और उस परिवार में किसी को भी कंप्यूटर का ज्ञान नहीं होना चाहिए)। एक परिवार में घर का मुखिया, उसकी पत्नी, बच्चे और माता-पिता होते हैं। इस योजना के तहत एक परिवार के एक सदस्य को कंप्यूटर से संबंधित प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिन लोगों को प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2021 यदि आप इस योजना के तहत प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहते हैं तो उन्हें पहले इस योजना के तहत आवेदन करना होगा।

ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2021 का उद्देश्य

जैसा कि आप जानते हैं कि देश के ग्रामीण नागरिक या तो निरक्षर हैं या कम पढ़े-लिखे हैं, राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण कार्यालय (एनएसएसओ) द्वारा वर्ष 2014 में शिक्षा पर किए गए सर्वेक्षण के अनुसार, भारत में केवल 6 प्रतिशत ग्रामीण परिवारों में एक है घर में कंप्यूटर। यानी 15 करोड़ से ज्यादा परिवारों के पास कंप्यूटर नहीं है। इन सब को देखते हुए केंद्र सरकार ने ग्रामीण लोगों को लाभ हवाले करना प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान इस योजना के माध्यम से देश के ग्रामीण क्षेत्रों के परिवारों में डिजिटल जागरूकता और शिक्षा को बढ़ावा देना है। इस ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2021 ग्रामीण परिवारों के सदस्य को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाना।

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान की विशेषताएं

  • इस योजना के तहत, 31 मार्च, 2020 तक 40 प्रतिशत ग्रामीण परिवारों में से कम से कम एक सदस्य को डिजिटल रूप से साक्षर करने की योजना है।
  • इस योजना के तहत देश के लगभग 6 करोड़ नागरिकों को डिजिटल साक्षरता प्रदान की जाएगी। पीएमजीदिशा के तहत 2020 तक लगभग 52.5 लाख लोगों को आईटी प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के लाभार्थियों की पहचान सीएससी-एसपीवी द्वारा जिला ई-गवर्नेंस सोसाइटी (डीजीएस), ग्राम पंचायतों और प्रखंड विकास अधिकारियों के सहयोग से की जाती है।

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2021 के लाभ

  • इस अभियान का लाभ देश के ग्रामीण क्षेत्रों में प्रत्येक परिवार के एक सदस्य को कंप्यूटर प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।
  • एक परिवार को एक इकाई के रूप में परिभाषित किया जाता है जिसमें परिवार का मुखिया, पति या पत्नी, बच्चे और माता-पिता शामिल होते हैं। ऐसे सभी परिवार जहां परिवार का कोई भी सदस्य डिजिटल रूप से साक्षर नहीं है, इस योजना के तहत पात्र परिवार माने जाएंगे।
  • प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2021 इसके तहत प्रशिक्षित नागरिकों को कंप्यूटर, टैबलेट, स्मार्ट फोन जैसे डिजिटल उपकरणों के संचालन में कुशल बनाया जाएगा।
  • इस योजना के तहत प्रशिक्षण प्राप्त करके लोग अपने दैनिक जीवन में इंटरनेट का उपयोग करके नागरिक सेवाओं, स्वास्थ्य सेवा, वित्तीय सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं।
  • ग्रामीण लोगों को ऑनलाइन बुकिंग के नए तरीकों के बारे में बताया जाएगा।
  • ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2021 इसके तहत गैर-स्मार्टफोन उपयोगकर्ताओं, अंत्योदय परिवारों, कॉलेज छोड़ने वालों, राष्ट्रीय साक्षरता मिशन के प्रतिभागियों को प्राथमिकता दी जाएगी।
  • कक्षा 9वीं से 12वीं तक के ऐसे छात्र जिनके पास डिजिटल साक्षरता और कंप्यूटर प्रशिक्षण की सुविधा नहीं है, उनके स्कूल में भी उपलब्ध नहीं है।
  • इसके साथ ही अनुसूचित जाति (एससी), अनुसूचित जनजाति (एसटी), गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल), महिला, दिव्यांग और अल्पसंख्यकों को प्राथमिकता दी जाती है।
  • इस योजना के लाभार्थियों की पहचान सीएससी-एसपीवी द्वारा जिला ई-गवर्नेंस सोसाइटी (डीजीएस), ग्राम पंचायतों और प्रखंड विकास अधिकारियों के सहयोग से की जाएगी।

पीएम ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2021 दस्तावेज़ (पात्रता)

  • आवेदक भारतीय निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक की आयु 18 से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान (PMGDISHA) के लिए आवेदन कैसे करें?

ग्रामीण क्षेत्र के जो लोग इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए चरणों का पालन करें।

पीएमजीदिशा
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना है। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा। इस पेज पर आपको लॉगिन फॉर्म मिलेगा।
  • इस लॉगिन फॉर्म के नीचे आप पाएंगे रजिस्टर करें विकल्प दिखाई देगा। आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना है। इस ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा।
प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान
  • इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में आपको सभी पूछी गई जानकारी जैसे यूआईडीएआई नंबर, स्टूडेंट नेम, जेंडर, डेट ऑफ बर्थ आदि को भरना है और नीचे दिए गए निर्देशों को पढ़कर चेक मार्क पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद Add पर क्लिक करें। उसके बाद अगले पेज पर आपका अगला कदम ई-केवाईसी है जिसे या तो फिंगरप्रिंट स्कैन करके या आंखों को स्कैन करके या मोबाइल फोन में ओटीपी सत्यापित करके किया जा सकता है। जिनके पास फिंगरप्रिंट स्कैनर या रेटिना स्कैनर नहीं है, वे तीसरे विकल्प का विकल्प चुन सकते हैं जो मोबाइल फोन ओटीपी सत्यापन है।
  • इसके लिए आपको एक वैलिड मोबाइल नंबर देना होगा, जिसमें ओटीपी भेजा जाएगा। सही OTP डालने के बाद आपको ‘Validate OTP’ पर क्लिक करना होगा।
  • फिर आप स्टूडेंट टैब में जाकर अपनी सारी जानकारी चेक कर सकते हैं। एक बार रजिस्ट्रेशन हो जाने के बाद छात्र इसमें यूजर आईडी और पासवर्ड जनरेट कर अपना नया अकाउंट खोल सकते हैं।

पीएम ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान का प्रमाण पत्र

ट्रेनिंग के बाद आपको PMGDISHA सर्टिफिकेट मिलता है। ट्रेनिंग के बाद ऑनलाइन टेस्ट होता है। इस ऑनलाइन टेस्ट में 25 प्रश्न पूछे जाते हैं, जिनमें से 7 का सही उत्तर देने पर उम्मीदवार परीक्षा पास कर लेता है और उसे पीएमजीदिशा प्रमाणपत्र दिया जाएगा।

पीएमजीदिशा

प्रशिक्षण केंद्र कैसे खोलें

  • देश के इच्छुक लाभार्थी जो अपना खुद का प्रशिक्षण केंद्र खोलना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपको सीएससी-एसपीवी प्रशिक्षण भागीदार बनना होगा।
  • प्रशिक्षण भागीदार कोई भी एनजीओ, संस्थान या कंपनी हो सकता है। भागीदार बनने के लिए कुछ मापदंड हैं जिन्हें पूरा करना आवश्यक है। उदाहरण के लिए एक प्रशिक्षण भागीदार भारत में पंजीकृत एक संगठन होना चाहिए,
  • शिक्षा/आईटी साक्षरता के क्षेत्र में तीन साल से अधिक समय से व्यवसाय करना और कम से कम पिछले तीन वर्षों के लिए स्थायी खाता संख्या (पैन) और खातों का लेखापरीक्षित विवरण होना।

शिकायत निवारण प्रक्रिया

अगर आप शिकायत निवारण फाइल करना चाहते हैं, तो आपको कोई फॉर्म भरने की जरूरत नहीं है। आपको बस एक ईमेल भेजना है जिसमें आपको अनुदान से संबंधित जानकारी लिखनी है। आपको यह ईमेल [email protected] भेजना होगा।

आरडी इंस्टालेशन यूजर मैनुअल डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के बारे में पता होना चाहिए। आधिकारिक वेबसाइट जारी रहेगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • अब आपको ट्रेनिंग के लिंक पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद तुम आरडी स्थापना उपयोगकर्ता मैनुअल आपको लिंक पर क्लिक करना है।
रिक्त
  • आपके सामने RD इंस्टालेशन के लिए मैनुअल खुल जाएगा।
  • आप इसे डाउनलोड कर आरडी इंस्टॉल कर सकते हैं।

टीसी लोकेटर ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के बारे में पता होना चाहिए। आधिकारिक वेबसाइट जारी रहेगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
टीसी लोकेटर ऐप डाउनलोड
  • अब आपको ट्रेनिंग के लिंक पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको टीसी लोकेटर एप के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे यह ऐप डाउनलोड होना शुरू हो जाएगा।
  • जब यह ऐप डाउनलोड हो जाए तो आप इसे इंस्टॉल कर सकते हैं।

दिशा पंजीकरण ऐप डाउनलोड प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के बारे में पता होना चाहिए। आधिकारिक वेबसाइट जारी रहेगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • अब आपको ट्रेनिंग के लिंक पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको दिशा पंजीकरण ऐप के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे यह ऐप डाउनलोड होना शुरू हो जाएगा।
  • जब यह ऐप डाउनलोड हो जाए तो आप इसे इंस्टॉल कर सकते हैं।

पीएमजीदिशा लर्निंग ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के बारे में पता होना चाहिए। आधिकारिक वेबसाइट जारी रहेगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • अब आपको ट्रेनिंग के लिंक पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको PMGDISHA Learning App के लिंक पर क्लिक करना है।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे यह ऐप डाउनलोड होना शुरू हो जाएगा।
  • जब यह ऐप डाउनलोड हो जाए तो आप इसे इंस्टॉल कर सकते हैं।

पीएमजीदिशा हेल्पलाइन नंबर

अगर किसी व्यक्ति को PMGDISHA से संबंधित कोई प्रश्न या समस्या है तो आप इस नंबर पर 1800 3000 3468 पर कॉल करके जान सकते हैं या [email protected] आप इस पर ईमेल भी कर सकते हैं

.

Leave a Comment