पीएम मित्र योजना 2021: ऑनलाइन पंजीकरण, लाभ और मित्र योजना कार्यान्वयन प्रक्रिया


प्रधानमंत्री मित्र योजना ऑनलाइन आवेदन करें | प्रधानमंत्री मित्र योजना ऑनलाइन पंजीकरण | प्रधानमंत्री मित्र योजना आवेदन पत्र | प्रधानमंत्री मित्र योजना कार्यान्वयन प्रक्रिया

सरकार द्वारा व्यापार संवर्धन पहुंचाने का सतत प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए तरह-तरह की योजनाएं शुरू की जाती हैं। इन योजनाओं के माध्यम से प्रशिक्षण से लेकर वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। आज हम आपको टेक्सटाइल और मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई ऐसी ही एक योजना से जुड़ी जानकारी उपलब्ध कराने जा रहे हैं, जिसका नाम है पीएम मित्र योजना है। इस योजना के तहत सरकार द्वारा नए टेक्सटाइल पार्क बनाए जाएंगे। इस लेख को पढ़कर आपको इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी मिल जाएगी। जैसे कि इसका उद्देश्य, लाभ, सुविधाएँ, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो दोस्तों अगर आप इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपसे अनुरोध है कि हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ें।

पीएम मित्र योजना 2021

यह योजना 6 अक्टूबर 2021 को शुरू की गई है। इस योजना को प्रधानमंत्री मेगा टेक्सटाइल इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल एंड अपैरल स्कीम के नाम से भी जाना जाता है। पीएम मित्र योजना इस योजना के तहत देश भर में 7 इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल पार्क स्थापित किए जाएंगे ताकि कताई, बुनाई, प्रसंस्करण, रंगाई और छपाई से लेकर कपड़े बनाने तक का काम एक ही स्थान पर हो सके। पीएम मित्र योजना इससे टेक्सटाइल और मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में बड़ी क्रांति आएगी। सरकार द्वारा योजना के संचालन पर 4445 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे पीएम मित्र योजना प्रधान मंत्री के 5F मॉडल से प्रेरित है जो कि फार्म टू फ़ाइबर टू फ़ैक्टरी टू फ़ैशन टू फ़ैशन है। इस योजना के माध्यम से टेक्सटाइल पार्क में विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचा तैयार किया जाएगा।

पीएम मित्र योजना

इसके अलावा इस योजना से 21 लाख रोजगार सृजित होंगे। जिसमें 7 लाख प्रत्यक्ष और 14 लाख अप्रत्यक्ष रोजगार प्राप्त होंगे। यह योजना भारतीय कंपनियों को वैश्विक कंपनियों के रूप में उभरने में मदद करने में कारगर साबित होगी।

पीएम मित्र योजना

ग्रीन फील्ड और ब्राउनफील्ड साइटों में निवेश

पीएम मित्र योजना के तहत कताई, बुनाई, प्रसंस्करण, रंगाई और छपाई से लेकर कपड़ों के निर्माण तक का काम एक ही जगह किया जाएगा। पहले ये सभी काम देश के अलग-अलग राज्यों में होते थे। जिससे लॉजिस्टिक्स का काफी खर्चा उठाना पड़ा। पीएम मित्र योजना सीएसआईआर की शुरूआत से लॉजिस्टिक्स की लागत में भी कमी आएगी क्योंकि पूरी मूल्य श्रृंखला एक ही स्थान पर मौजूद होगी। इस योजना के तहत विभिन्न राज्यों में स्थित ग्रीन फील्ड और ब्राउनफील्ड स्थानों पर पार्क का निर्माण किया जाएगा। ग्रीन फील्ड मित्र पार्क के विकास पर 500 करोड़ खर्च किए जाएंगे।

पीएम मित्र योजना

ब्राउनफील्ड पार्क के विकास के लिए 200 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे, इसके अलावा निर्माण इकाइयों को प्रतिस्पर्धी प्रोत्साहन के लिए सभी मित्र पार्कों को 300 करोड़ रुपये की सहायता प्रदान की जाएगी। इसके अलावा मित्र पार्क को स्पेशल पर्पज व्हीकल पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप मोड में विकसित किया जाएगा। इन वाहनों के स्वामित्व राज्य सरकार और भारत सरकार।

मुख्य विचार पीएम मित्र योजना के

योजना का नाम पीएम मित्र योजना
किसने शुरू किया केंद्र सरकार
लाभार्थी देश के नागरिक
उद्देश्य कपड़ा उद्योग को एक एकीकृत पारिस्थितिकी तंत्र प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइट जल्द ही लॉन्च किया जाएगा
वर्ष 2021
बजट ₹4445 करोड़

3 साल में 30 करोड़ रुपये दिए जाएंगे

ये पार्क उन सभी राज्यों में स्थापित किए जाएंगे जहां सस्ती जमीन, पानी और श्रम मुहैया कराया जाएगा। 7 एक पार्क स्थापित करने के लिए अनुमानित खर्च 17000 करोड़ रुपए है। जो इकाइयां शुरुआत में बड़ा निवेश करेंगी उन्हें भी पहले आओ पहले पाओ के आधार पर सहायता प्रदान की जाएगी। सरकार की ओर से 3 साल में 30 करोड़ रुपये तक की यूनिट मुहैया कराई जाएगी। अनुसंधान केंद्र, डिजाइन केंद्र, इन टेक्सटाइल पार्क प्रशिक्षण केंद्र, चिकित्सा सुविधाएं, श्रमिकों के लिए घरेलू सुविधाएं, गोदाम, परिवहन सुविधाएं, होटल, दुकानें भी बनाई जाएंगी। यह पार्क एक एकीकृत प्रणाली होगा जिसके माध्यम से एक ऐसा पारिस्थितिकी तंत्र बनाया जाएगा जिसमें सभी एक दूसरे से लाभ उठा सकें और मदद कर सकें। पार्क का 50% क्षेत्र शुद्ध निर्माण गतिविधियों के लिए, 20% क्षेत्र उपयोगिताओं के लिए और 10% क्षेत्र वाणिज्यिक विकास के लिए विकसित किया जाएगा।

पीएम मित्र योजना

पीएम मित्र योजना का उद्देश्य

पीएम मित्र योजना का मुख्य उद्देश्य कपड़ा उद्योग को एक एकीकृत पारिस्थितिकी तंत्र प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से देश भर में 7 टेक्सटाइल पार्क बनाए जाएंगे। इन पार्कों में कताई, बुनाई, प्रसंस्करण, रंगाई और छपाई से लेकर वस्त्र निर्माण तक काम हो जाएगा। यह योजना भारतीय कंपनियों को वैश्विक कंपनियों के रूप में उभरने में मदद करने में भी कारगर साबित होगी। इसके अलावा इस योजना के जरिए निवेश को भी आकर्षित किया जा सकता है। इस योजना के माध्यम से कपड़ा क्षेत्र को एक एकीकृत पारिस्थितिकी तंत्र मिलेगा ताकि कपड़ा क्षेत्र से जुड़े नागरिकों का विकास हो सके। यह योजना देश की बेरोजगारी दर को कम करें ऐसा करने में यह कारगर भी साबित होगा क्योंकि इस योजना से 21 लाख रोजगार सृजित होंगे। इस योजना से देश के नागरिकों के जीवन स्तर में भी सुधार होगा।

पीएम मित्र योजना के लाभ

  • पीएम मित्र योजना 6 अक्टूबर 2021 को शुरू की गई है।
  • इस योजना को प्रधानमंत्री मेगा टेक्सटाइल इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल एंड अपैरल स्कीम के नाम से भी जाना जाता है।
  • इस योजना के तहत देश भर में 7 इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल पार्क बनाए जाएंगे।
  • यह योजना कपड़ा निर्माण क्षेत्र में एक बड़ी क्रांति लाएगी।
  • इस योजना के संचालन के लिए सरकार द्वारा 4445 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।
  • यह योजना पीएम के 5F मॉडल से प्रेरित है जो कि फार्म से फाइबर से फैक्ट्री से फैशन से विदेशी तक है।
  • पीएम मित्र योजना टेक्सटाइल पार्क में वर्ल्ड क्लास इंफ्रास्ट्रक्चर बनाया जाएगा।
  • इस योजना से 21 लाख रोजगार सृजित होंगे।
  • 21 लाख नौकरियों में से 7 लाख प्रत्यक्ष और 14 लाख अप्रत्यक्ष नौकरियां होंगी।
  • यह योजना भारतीय कंपनी के लिए वैश्विक कंपनी के रूप में उभरने में भी कारगर साबित होगी।
  • इसके अलावा इस योजना के जरिए निवेश को भी आकर्षित किया जा सकता है।
  • इस योजना के माध्यम से कताई, बुनाई, प्रसंस्करण, रंगाई और छपाई से लेकर कपड़ों के निर्माण तक का काम एक ही स्थान पर किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से लॉजिस्टिक्स की लागत में भी कमी आएगी क्योंकि पूरी मूल्य श्रृंखला एक ही स्थान पर मौजूद होगी।
पीएम मित्र योजना 2021

पीएम मित्र योजना का गुण

  • पार्क का निर्माण विभिन्न राज्यों में स्थित ग्रीन फील्ड और ब्राउन फील्ड स्थानों में किया जाएगा।
  • ग्रीन फील्ड मित्र पार्क विकसित करने के लिए 500 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।
  • ब्राउन फील्ड पार्क को विकसित करने के लिए 200 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।
  • विनिर्माण इकाइयों की प्रतिस्पर्धात्मकता को प्रोत्साहित करने के लिए सभी मित्र पार्कों को 300 करोड़ रुपये की सहायता प्रदान की जाएगी।
  • 7 पार्कों की स्थापना की अनुमानित लागत 17000 करोड़ रुपये है।
  • यह पार्क एक एकीकृत प्रणाली होगा जिसके माध्यम से एक ऐसा पारिस्थितिकी तंत्र बनाया जाएगा जिसमें सभी को लाभ मिल सके और मां एक दूसरे से।
  • पार्क का 50% क्षेत्र शुद्ध निर्माण गतिविधियों के लिए, 20% क्षेत्र उपयोगिताओं के लिए और 10% क्षेत्र वाणिज्यिक विकास के लिए विकसित किया जाएगा।

पीएम मित्र योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

अगर तुम पीएम मित्र योजना यदि आप लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको अभी कुछ समय का इंतजार करना होगा। सरकार ने अभी इस योजना को शुरू करने की घोषणा की है। जल्द ही सरकार की ओर से इस योजना के तहत आवेदन से जुड़ी जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। जैसे ही सरकार इस योजना के तहत आवेदन से संबंधित कोई जानकारी साझा करेगी, हम आपको इस लेख के माध्यम से जरूर बताएंगे। तो आपसे अनुरोध है कि हमारे इस लेख से जुड़े रहें।


Leave a Comment