मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना 2021: ऑनलाइन पंजीकरण पात्रता और लाभ


मुख्यमंत्री आवास भू अधिकार योजना लागू करें | मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना ऑनलाइन पंजीकरण | मुख्यमंत्री आवास भू अधिकार योजना आवेदन पत्र

आवास जीवन की न्यूनतम मूलभूत आवश्यकताओं में से एक है। देश में कई ऐसे नागरिक हैं जो अपनी आर्थिक स्थिति के कारण इस आवश्यकता को पूरा नहीं कर पा रहे हैं। ऐसे सभी नागरिकों के लिए राज्य और राज्य सरकारों द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाएं संचालित की जाती हैं। मध्य प्रदेश सरकार द्वारा भी मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना संचालित है। इस योजना के माध्यम से राज्य के नागरिक अपना खुद का आवास प्रदान करें पूरा हो गया है। इस लेख के माध्यम से आप मुख्यमंत्री आवास भू अधिकार योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करेंगे। जैसे इसका उद्देश्य, लाभ, सुविधाएँ, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन करने की प्रक्रिया आदि। इसलिए यदि आप मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा।

मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना

मुख्यमंत्री आवास भू अधिकार योजना 2021

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा मुख्यमंत्री आवास भू अधिकार योजना शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से राज्य के ऐसे परिवारों को प्लॉट दिए जाएंगे जिनके पास अपना घर नहीं है। वे सभी परिवार जिनके पास न तो अपना घर है और न ही अपना प्लॉट है वे इस योजना का लाभ पाने के पात्र होंगे। इन भूखंडों को नि:शुल्क (पट्टे पर) उपलब्ध कराया जाएगा। प्लॉट मिलने के बाद लाभार्थी प्रधानमंत्री आवास योजना इसके माध्यम से घर का निर्माण भी किया जा सकता है। इसके अलावा अन्य योजनाओं का लाभ भी हितग्राहियों को प्रदान किया जाएगा।

सरकार की ओर से ग्रामीण क्षेत्रों में आबादी भूमि पर भूखंड आवंटन के लिए भी दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। अब राज्य के नागरिक सम्मानजनक जीवन जी सकेंगे। इन भूखंडों के माध्यम से राज्य के नागरिक भी बैंकों से ऋण प्राप्त कर सकेंगे। ग्रामीण क्षेत्रों में प्रत्येक ग्राम पंचायत में आबादी भूमि पर पात्र परिवारों को आवासीय भूखंड उपलब्ध कराने के उद्देश्य से यह योजना शुरू की गई है।

मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना

मध्य प्रदेश आवासीय भूमि अधिकार योजना का उद्देश्य

मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना इनका मुख्य उद्देश्य सभी नागरिकों को आवासीय भूखंड उनके लिए जिनके पास अपना घर नहीं है। इस योजना के माध्यम से राज्य के नागरिक न्यूनतम मूलभूत आवश्यकताओं के साथ सम्मानजनक जीवन व्यतीत कर सकेंगे। यह योजना देश के नागरिकों के जीवन स्तर को सुधारने में भी कारगर साबित होगी। अब राज्य के हर नागरिक को अपना घर मिल सकेगा. इसके अलावा इस योजना के तहत उपलब्ध कराए गए भूखंडों पर बैंकों से ऋण भी प्राप्त किया जा सकता है। जिससे राज्य के नागरिकों की आर्थिक स्थिति में भी सुधार होगा।

मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना

मुख्य विचार का मुख्यमंत्री आवास भू अधिकार योजना 2021

योजना का नाम मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना
किसने शुरू किया मध्य प्रदेश सरकार
लाभार्थी मध्य प्रदेश के नागरिक
उद्देश्य आवासीय भूखंड प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइट जल्द ही लॉन्च किया जाएगा
वर्ष 2021
राज्य मध्य प्रदेश
आवेदन का प्रकार ऑनलाइन ऑफ़लाइन

आवेदकों के लिए जारी निम्नलिखित शर्तें:

  • आवेदन करने वाले प्लाट का अधिकतम क्षेत्रफल 60 वर्ग मीटर होगा।
  • जनसंख्या के लिए भूमि की उपलब्धता के संबंध में जिला कलेक्टर को अधिकार दिया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से प्रत्येक पात्र परिवार को भूखंड प्रदान किया जाएगा। परिवार का अर्थ है पति और पत्नी और उनके अविवाहित बेटे और बेटियां।
  • इस योजना के तहत केवल वही आवेदक परिवार आवेदन कर सकेंगे जो संबंधित गांव के निवासी हैं।
  • आवेदन सारा पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन जमा किया जा सकता है।
  • सभी पात्र परिवारों की ग्रामवार सूची प्रकाशित की जायेगी ताकि संबंधित ग्रामीणों से आपत्तियां एवं सुझाव आमंत्रित किये जा सकें।
  • आपत्ति एवं सुझाव आमंत्रित करने की अवधि 10 दिन होगी।
  • यह सूचना चौपाल, गुड़ी, चावड़ी आदि सार्वजनिक स्थानों तथा ग्राम पंचायत कार्यालय में चस्पा की जायेगी।
  • उपलब्धता के अनुसार पति-पत्नी के संयुक्त नाम पर भू – स्वामित्व अधिकार प्रदान किया जाएगा।
  • प्लॉट के आवंटन के लिए आवेदकों को कोई प्रीमियम नहीं देना होगा।
  • सभी प्राप्त एवं स्वीकृत प्रकरणों की मॉनीटरिंग राजस्व आयुक्त द्वारा की जायेगी।

मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना के लाभ और विशेषताएं

  • मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना लॉन्च किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से उन सभी परिवारों को भूखंड उपलब्ध कराए जाएंगे जिनके पास अपना घर नहीं है।
  • वे सभी परिवार जिनके पास न तो अपना घर है और न ही अपना प्लॉट है वे इस योजना का लाभ पाने के पात्र होंगे।
  • इन भूखंडों को नि:शुल्क उपलब्ध कराया जाएगा।
  • प्लॉट मिलने के बाद लाभार्थियों द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के माध्यम से मकान का निर्माण भी कराया जा सकता है।
  • इसके अलावा अन्य योजनाओं का लाभ भी हितग्राहियों को प्रदान किया जाएगा।
  • सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में आबादी भूमि पर ब्लॉक आवंटन के लिए भी दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं।
  • इस योजना से राज्य के नागरिकों के जीवन स्तर में भी सुधार होगा।
  • इन भूखंडों के माध्यम से राज्य के नागरिक भी बैंक से ऋण प्राप्त कर सकेंगे।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में प्रत्येक ग्राम पंचायत में आबादी भूमि पर पात्र परिवारों को आवासीय भूखंड उपलब्ध कराने के उद्देश्य से यह योजना शुरू की गई है।
  • इस योजना के तहत उपलब्ध कराए जाने वाले भूखंड का अधिकतम क्षेत्रफल 60 वर्ग मीटर होगा।
  • सभी आवेदनों और स्वीकृत मामलों की निगरानी राज्य सभा अधिकारी द्वारा की जाएगी।
  • भूखंड के आवंटन के लिए कोई प्रीमियम जमा करने की आवश्यकता नहीं है।
  • भूमि स्वामित्व का अधिकार पति-पत्नी के संयुक्त नाम से प्रदान किया जाएगा।

मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना की पात्रता

  • आवेदक मध्य प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक या उसके परिवार के पास कोई पक्का घर नहीं होना चाहिए।
  • जिन नागरिकों के पास जमीन नहीं है और वे दिहाड़ी मजदूरी करके अपनी आजीविका कमाते हैं, वे भी इस योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं।
  • ऐसे परिवार जिनमें 16 से 59 वर्ष की आयु का कोई पुरुष या वयस्क सदस्य नहीं है, वे भी इस योजना का लाभ पाने के पात्र हैं।
  • परिवार में 25 वर्ष से अधिक आयु का कोई भी साक्षर वयस्क नहीं होना चाहिए।
  • जिस परिवार के पास स्वतंत्र रूप से रहने के लिए घर है, वह योजना का लाभ पाने के लिए पात्र नहीं है।
  • 5 एकड़ से अधिक भूमि वाले परिवारों को भी इस योजना का लाभ नहीं मिल सकता है।
  • जो परिवार सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकान से राशन लेने के पात्र नहीं हैं उन्हें भी इस योजना का लाभ नहीं मिल सकता है।
  • यदि परिवार का कोई सदस्य आयकर दाता है या सरकारी सेवा में है तो वह भी इस योजना का लाभ पाने के पात्र नहीं है।

महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पते का सबूत
  • आय का प्रमाण
  • उम्र का सबूत
  • पहचान पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर

मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

मध्य प्रदेश सरकार अब केवल मुख्यमंत्री आवासीय भूमि अधिकार योजना शुरू करने की घोषणा की है। सरकार की ओर से जल्द ही इस योजना के तहत आवेदन करने की जानकारी सार्वजनिक की जाएगी। जैसे ही यह मुख्यमंत्री आवास भू अधिकार योजना अंतर्गत आवेदन करने से संबंधित कोई भी जानकारी सार्वजनिक की जाती है, हम आपको इस लेख के माध्यम से जरूर बताएंगे। तो अगर आप इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपसे अनुरोध है कि हमारे इस लेख से जुड़े रहें।


Leave a Comment