|पंजीकरण| झारखंड विवाह पंजीकरण: विवाह पंजीकरण, ऑनलाइन प्रमाणपत्र


झारखंड विवाह पंजीकरण | झारखंड विवाह पंजीकरण ऑनलाइन प्रमाणपत्र | झारखंड विवाह ऑनलाइन आवेदन | झारखंड विवाह पंजीकरण आवेदन शुल्क

विवाह प्रमाण पत्र एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज है जिसका उपयोग कानूनी रिकॉर्ड के रूप में किया जाता है। इसी को ध्यान में रखते हुए झारखंड सरकार शादी का प्रमाणपत्र इसे अनिवार्य कर दिया गया है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बताएंगे झारखंड विवाह पंजीकरण हम झारखंड विवाह पंजीकरण क्या है?, इसके लाभ, उद्देश्य, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, विशेषताएं, आवेदन प्रक्रिया आदि से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं, तो दोस्तों यदि आप झारखंड विवाह पंजीकरण यदि आप इससे संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपसे अनुरोध है कि हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ें।

झारखंड विवाह पंजीकरण

झारखंड सरकार द्वारा झारखंड के नागरिकों के लिए शादी के 1 साल के भीतर शादी का पंजीकरण कराना अनिवार्य कर दिया गया है। यह फैसला विवाह पंजीकरण नियम 2018 के तहत लिया गया है। यह विवाह पंजीकरण ऑनलाइन भी किया जा सकता है। पंजीकरण के बाद विवाहित जोड़ों का विवाह कानूनी रूप से वैध माना जाता है। पंजीकरण के बाद, नागरिकों को विवाह प्रमाणपत्र प्रदान किया जाता है। इस विवाह प्रमाण पत्र का उपयोग कई प्रकार के सरकारी कार्यों में एक आवश्यक दस्तावेज के रूप में भी किया जाता है। झारखंड सरकार द्वारा झारखंड विवाह प्रमाण पत्र बनाने की पूरी प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया गया है। इससे पहले, नागरिकों को विवाह प्रमाण पत्र बनवाने के लिए सरकारी कार्यालयों का चक्कर लगाना पड़ता था। जिससे समय और पैसा दोनों बर्बाद होता था। अब झारखंड के नागरिक घर बैठे आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से अपना विवाह प्रमाण पत्र बनवा सकते हैं।

झारखंड विवाह पंजीकरण

झारखंड विवाह पंजीकरण जुर्माना

यदि कोई विवाहित जोड़ा विवाह के 1 वर्ष के भीतर विवाह प्रमाण पत्र प्रस्तुत नहीं करवाता है तो उसे प्रतिदिन ₹5 का जुर्माना देना होगा। यह राशि अधिकतम ₹100 होगी। नागरिकों के लिए विवाह पंजीकरण इसे करवाने के लिए ₹50 का शुल्क भी जमा करना होगा। यह नियम राज्य सभी धर्मों के नागरिक के लिए है। जन्म एवं मृत्यु पंजीकरण करने वाले अधिकारियों से नगरीय क्षेत्र के नागरिक, नगर निगम, नगर परिषद, नगर पालिका एवं अधिसूचना क्षेत्र समिति द्वारा भी विवाह पंजीकरण कराया जा सकता है। ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिक भी जन्म और मृत्यु पंजीकरण अधिकारियों से यह प्रमाण पत्र बनवा सकते हैं। इसके अलावा विवाह पंजीकरण छावनी बोर्ड और प्रज्ञा केंद्र द्वारा भी किया जा सकता है।

झारखंड विवाह पंजीकरण आवेदन शुल्क

प्रमाण पत्र बनवाने के लिए विवाह के 15 दिन पूर्व पंचायत सचिवालय में आवेदन करना होगा। जिसके लिए ₹50 का शुल्क जमा करना होगा। अगर किसी को शादी से कोई आपत्ति है तो उसे 7 दिन के अंदर इसके लिए आवेदन करना होगा। जिसका आवेदन शुल्क ₹500 है। शादी का प्रमाणपत्र लेकिन अधिकृत पंचायत सचिव के हस्ताक्षर होना अनिवार्य है। यह प्रक्रिया गांव में पंचायत सचिव व प्रज्ञा केंद्र के माध्यम से की जाएगी। पंचायत सचिव और प्रज्ञा केंद्रों को 28 जनवरी 2021 को प्रशिक्षण दिया गया है। इसके अलावा झारखंड के नागरिक भी आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से अपना विवाह पंजीकरण स्वयं कर सकते हैं।

मुख्य विचार झारखंड के विवाह पंजीकरण

योजना का नाम झारखंड विवाह पंजीकरण
किसने लॉन्च किया झारखंड सरकार
लाभार्थी झारखंड के नागरिक
उद्देश्य विवाह प्रमाण पत्र ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें
वर्ष 2022
जुर्माना ₹5 प्रति दिन
आवेदन शुल्क ₹50

झारखंड विवाह पंजीकरण का उद्देश्य

झारखंड विवाह पंजीकरण योजना का मुख्य उद्देश्य झारखंड के सभी नागरिकों के लिए विवाह पंजीकरण करवाना है। इस योजना के माध्यम से झारखंड के सभी नागरिकों के लिए विवाह का पंजीकरण कराना अनिवार्य कर दिया गया है। यह पंजीकरण आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से किया जा सकता है। अब झारखंड के नागरिकों को विवाह पंजीकरण करवाने के लिए किसी भी सरकारी कार्यालय में जाने की आवश्यकता नहीं है। वे घर बैठे आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से विवाह पंजीकरण करवा सकते हैं। इससे समय और धन दोनों की बचत होगी और व्यवस्था में पारदर्शिता आएगी।

झारखंड विवाह पंजीकरण के लाभ

  • झारखंड सरकार द्वारा झारखंड के नागरिकों के लिए शादी के 1 साल के भीतर शादी का पंजीकरण कराना अनिवार्य कर दिया गया है।
  • यह निर्णय पंजीकरण नियम 2018 के तहत लिया गया है।
  • अब झारखंड के नागरिक भी अपना विवाह पंजीकरण ऑनलाइन करवा सकते हैं।
  • पंजीकरण के बाद विवाहित जोड़े का विवाह कानूनी रूप से वैध माना जाता है।
  • विवाह पंजीकरण के बाद, नागरिकों को विवाह प्रमाण पत्र जारी किया जाता है।
  • विवाह प्रमाण पत्र का उपयोग कई प्रकार के सरकारी कार्यों में एक आवश्यक दस्तावेज के रूप में किया जाता है।
  • अब नागरिकों को झारखंड विवाह पंजीकरण कराने के लिए किसी भी सरकारी कार्यालय में जाने की आवश्यकता नहीं होगी। यह सर्टिफिकेट वे घर बैठे ऑफिसियल वेबसाइट के जरिए बनवा सकते हैं।
  • इससे समय और धन दोनों की बचत होगी और व्यवस्था में पारदर्शिता आएगी।

विवाह पंजीकरण के गुण

  • अगर कोई शादीशुदा जोड़ा शादी के 1 साल के अंदर मैरिज सर्टिफिकेट नहीं बनवाता है तो उसे प्रतिदिन ₹5 का जुर्माना भरना होगा।
  • जुर्माने की अधिकतम सीमा ₹100 होगी।
  • विवाह का पंजीकरण कराने के लिए नागरिकों को ₹50 का आवेदन शुल्क जमा करना होगा।
  • यह नियम सभी धर्मों के नागरिकों के लिए है।
  • नगरीय क्षेत्रों के लिए विवाह पंजीकरण नागरिक नगर निगम, नगर परिषद, नगर पालिका एवं अधिसूचना क्षेत्र समिति में जन्म एवं मृत्यु पंजीकरण कराने वाले अधिकारियों से भी कराया जा सकता है।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में यह प्रमाण पत्र उन अधिकारियों से भी बनवाया जा सकता है जिन्होंने नागरिक जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाए हैं।
  • इसके अलावा विवाह पंजीकरण छावनी बोर्ड और प्रज्ञा केंद्र द्वारा भी किया जा सकता है।
  • प्रमाण पत्र बनवाने के लिए विवाह के 15 दिन पूर्व पंचायत सचिवालय में आवेदन किया जाता है।
  • अगर किसी को शादी से आपत्ति है तो इसके लिए उसे 7 दिन के अंदर आवेदन करना होगा जिसकी आवेदन फीस ₹500 है।
  • विवाह प्रमाण पत्र पर अधिकृत पंचायत सचिव के हस्ताक्षर होना अनिवार्य है।
  • पंचायत सचिव एवं प्रज्ञा केन्द्रों को 28 जनवरी 2021 को प्रशिक्षण भी दिया गया है।

झारखंड विवाह पंजीकरण पात्रता

  • कोई भी विवाहित जोड़ा मानसिक असंतुलन का शिकार न हो।
  • दुल्हन की उम्र 21 साल से कम और दुल्हन की उम्र 18 साल से कम नहीं होनी चाहिए.
  • पति और पत्नी दोनों भारत के निवासी होने चाहिए और झारखंड के निवासी होने चाहिए।

विवाह पंजीकरण महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • वर और वधू की संयुक्त तस्वीर
  • दूल्हे की पासपोर्ट साइज फोटो
  • दुल्हन की पासपोर्ट साइज फोटो
  • तीन गवाहों का पासपोर्ट साइज फोटो
  • तीनों गवाहों के डिजिटल सिग्नेचर
  • वर डिजिटल हस्ताक्षर
  • दुल्हन के डिजिटल हस्ताक्षर
  • दूल्हे का आयु प्रमाण पत्र
  • दुल्हन का आयु प्रमाण पत्र
  • दूल्हे का निवास प्रमाण पत्र
  • दुल्हन का निवास प्रमाण पत्र
  • क्लास आधार कार्ड कॉपी
  • मधु के आधार कार्ड की कॉपी

झारखंड विवाह पंजीकरण प्रक्रिया

  • अब आपके सामने हमारा पेज ओपन हो जाएगा।
  • होम पेज पर Register Yourself के जेंडर का क्या करें।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको पूछी गई सभी जानकारियां जैसे कि आपका नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर, पासवर्ड, राज्य और कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सबमिट ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • इस तरह आपका पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन हो जाएगा।
  • अब आपको लॉग इन बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको अपना लॉग इन आईडी, पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • अब आपको लॉग इन बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको मैरिज रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस फॉर्म में पूछी गई सभी जरूरी जानकारियां आपको दर्ज करनी होंगी।
  • अब आपको सभी जरूरी दस्तावेज अटैच करने होंगे।
  • इसके बाद आपको आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा।
  • अब आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना है।
  • इस तरह आप झारखंड मैरिज रजिस्ट्रेशन कर पाएंगे।

पंजीकरण के बाद की प्रक्रिया

  • ऑनलाइन फॉर्म जमा करने के बाद आपको एक संदर्भ संख्या प्राप्त होगी।
  • यह संदर्भ संख्या आपकी पावती पर्ची पर भी होगी।
  • इसके बाद आपको अपनी पावती पर्ची और आवेदन पत्र का प्रिंट आउट लेना होगा।
  • यह प्रिंटआउट आपको अपने पास रखना होगा।
  • आपको अपलोड किए गए सभी दस्तावेजों की कॉपी भी अपने पास रखनी होगी।
  • भौतिक सत्यापन के दौरान आपको इसकी आवश्यकता होगी।
  • आपके आवेदन के 15 दिन बाद आपको संबंधित कार्यालय में बुलाया जाएगा।
  • कार्यालय में आपका सत्यापन किया जाएगा।
  • सत्यापन के बाद, आपको एक विवाह प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा।

पोर्टल में लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपकी सेवा की आधिकारिक वेबसाइट जारी रहेगा।
  • अब आपके सामने हमारा पेज ओपन हो जाएगा।
  • इसके बाद आपको लॉग इन बटन पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको लॉगिन आईडी, पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • इसके बाद आपको लॉग इन बटन पर क्लिक करना है।
  • इस तरह आप पोर्टल में लॉग इन कर पाएंगे।

आवेदन की स्थिति को ट्रैक करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपकी सेवा की आधिकारिक वेबसाइट जारी रहेगा।
  • अब आपके सामने हमारा पेज ओपन हो जाएगा।
  • आप होम पेज पर आवेदन की स्थिति आपको लिंक पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको सर्च कैटेगरी का चयन करना होगा जो कि एप्लीकेशन रेफरेंस नंबर और ओटीपी है।
  • अब आपको सर्च कैटेगरी के अनुसार जानकारी दर्ज करनी है।
  • इसके बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना है।
  • आवेदन की स्थिति आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

,

Leave a Comment