ई-भूमि पोर्टल हरियाणा 2021: उद्देश्य, ऑनलाइन पंजीकरण और लॉगिन प्रक्रिया


ई-भूमि पोर्टल हरियाणा | ई-भूमि पोर्टल हरियाणा ऑनलाइन पंजीकरण | ई-भूमि पोर्टल हरियाणा आवेदन पत्र | ई-भूमि पोर्टल लॉगिन प्रक्रिया

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि सरकार द्वारा डिजिटलीकरण किया जा रहा है। इसके लिए सरकार की ओर से तरह-तरह के पोर्टल लॉन्च किए जा रहे हैं। अब देश के नागरिक विभिन्न प्रकार की योजनाओं के तहत आवेदन करना शुरू करते हैं। भूमि संबंधी जानकारी इन पोर्टलों के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता है। आज हम आपको हरियाणा सरकार द्वारा शुरू किए गए ऐसे ही एक पोर्टल से जुड़ी जानकारी उपलब्ध कराने जा रहे हैं। किसका नाम ई-भूमि पोर्टल हरियाणा है। इस पोर्टल के माध्यम से राज्य में भूमि सौदों में पारदर्शिता सुनिश्चित की जाएगी। इस लेख को पढ़कर आपको इस पोर्टल से जुड़ी पूरी जानकारी मिल जाएगी। जैसे कि इस पोर्टल का उद्देश्य, लाभ, सुविधाएँ, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, ऑनलाइन पंजीकरण, लॉगिन आदि।

हरियाणा ई-भूमि द्वार 2021

6 फरवरी 2017 को हरियाणा सरकार ई भूमि पोर्टल हरियाणा लॉन्च किया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से राज्य में भूमि सौदों में पारदर्शिता सुनिश्चित की जाएगी। इस पोर्टल को हरियाणा राज्य औद्योगिक एवं आधारभूत संरचना विकास निगम द्वारा विकसित किया गया है। यह पोर्टल जमींदारों को विभिन्न विकास परियोजनाओं के लिए राज्य सरकार को अपनी जमीन आसानी से बेचने में मदद करेगा। क्योंकि इस पोर्टल पर जमीन से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध होगी। जिसके माध्यम से सरकार इन विवरणों को देख और सत्यापित कर सकेगी। इससे अलग कुछ ] ई-भूमि पोर्टल हरियाणा इसके माध्यम से संपत्ति पंजीकरण प्रणाली को भी सरल बनाया गया है ताकि नागरिकों को सरकारी कार्यालय न जाना पड़े।

इस पोर्टल के माध्यम से समय और धन दोनों की बचत होगी और व्यवस्था में पारदर्शिता आएगी। इस पोर्टल के माध्यम से किसानों को जबरन जमीन बेचने से भी रोका जाएगा। सरकार द्वारा भूमि की खरीद के 30 दिनों के भीतर सार्वजनिक नोटिस और विज्ञापन जारी किया जाता है। ट्रैकिंग नंबर विभाग द्वारा प्रदान किया जाता है जिसके उपयोग से मकान मालिक को ई भूमि पोर्टल के माध्यम से ट्रैक किया जाता है।

ई-भूमि (ई-भूमि) पोर्टल हरियाणा का उद्देश्य

ई भूमि पोर्टल हरियाणा इसका मुख्य उद्देश्य भूमि सौदों में पारदर्शिता सुनिश्चित करना है। इस पोर्टल के माध्यम से किसान को उसकी परियोजना के संभावित खरीदार के रूप में सरकार द्वारा अनुमोदित किया जाता है। यदि किसी जमींदार द्वारा भूमि सरकार को बेची जाती है तो इस पोर्टल के माध्यम से भूस्वामी का जमीन की पूरी जानकारी प्राप्त किया जा सकता है। इस पोर्टल के जरिए मकान मालिक को भी ट्रैक किया जा सकता है। मकान मालिक द्वारा दिए गए विवरण का सत्यापन ई-भूमि पोर्टल हरियाणा के माध्यम से भी किया जा सकता है। इस पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण प्रणाली को भी सरल बनाया गया है। ताकि नागरिकों को किसी भी सरकारी कार्यालय में जाने की आवश्यकता न पड़े। इससे समय और धन दोनों की बचत होगी और व्यवस्था में पारदर्शिता भी आएगी।

मुख्य विचार ई-भूमि पोर्टल हरियाणा का

योजना का नाम ई भूमि पोर्टल हरियाणा
किसने शुरू किया हरियाणा सरकार
लाभार्थी हरियाणा के नागरिक
उद्देश्य भूमि सौदों में पारदर्शिता सुनिश्चित करना।
आधिकारिक वेबसाइट यहाँ क्लिक करें
वर्ष 2021
राज्य हरियाणा
आवेदन का प्रकार ऑनलाइन ऑफ़लाइन

ई भूमि पोर्टल हरियाणा के लाभ और विशेषताएं

  • 6 फरवरी 2017 को हरियाणा सरकार ई-भूमि पोर्टल हरियाणा लॉन्च किया गया है।
  • इस पोर्टल के माध्यम से राज्य में भूमि सौदों में पारदर्शिता सुनिश्चित की जाएगी।
  • यह पोर्टल हरियाणा राज्य औद्योगिक और बुनियादी ढांचा विकास निगम द्वारा विकसित किया गया है।
  • इस पोर्टल के माध्यम से जमींदार एक साधारण प्रक्रिया के माध्यम से अपनी जमीन राज्य सरकार को बेच सकेंगे।
  • इस पोर्टल पर भूमि से संबंधित पूरी जानकारी उपलब्ध होगी, जिसके माध्यम से सरकार भूमि का सत्यापन हो सकता है।
  • इस पोर्टल के माध्यम से संपत्ति पंजीकरण प्रणाली को भी सरल बनाया गया है।
  • इस पोर्टल के माध्यम से किसानों को जमीन की जबरन बिक्री को भी रोका जा सकेगा।
  • सरकार द्वारा भूमि की खरीद के 30 दिनों के भीतर सार्वजनिक नोटिस और विज्ञापन जारी किया जाएगा।
  • ट्रैकिंग नंबर विभाग द्वारा प्रदान किया जाएगा जिसके उपयोग से मकान मालिक को ई भूमि पोर्टल के माध्यम से ट्रैक किया जाता है।
  • इस पोर्टल के माध्यम से जमींदार अपनी जमीन सीधे सरकार को बेच सकते हैं।
  • इसके अलावा ई-भूमि पोर्टल हरियाणा भूमि मालिकों द्वारा सरकार को भूमि की बिक्री के लिए स्वैच्छिक प्रस्ताव प्रदान करता है।
  • इस पोर्टल के माध्यम से संपत्ति पंजीकरण, भूमि बिक्री और भूमि खरीद की जा सकती है।

मकान मालिक लॉगिन प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको हरियाणा का ई-भूमि पोर्टल मिलेगा। आधिकारिक वेबसाइट जारी रहेगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • आप होम पेज पर जमींदार लॉगिन आपको ऑप्शन पर क्लिक करना है।
ई-भूमि पोर्टल हरियाणा
  • इसके बाद आपको अपना मोबाइल नंबर डालना है।
  • अब आपको Generate OTP पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको अपने मोबाइल पर आए ओटीपी को ओटीपी बॉक्स में डालना होगा।
  • अब आपको लॉगइन ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • इस तरह जमीन मालिक लॉग इन कर सकेगा।

भूमि संग्रहकर्ता लॉगिन प्रक्रिया

ई-भूमि पोर्टल हरियाणा
  • अब आपके सामने लॉगिन पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना यूजर आईडी या इमेज, पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • इसके बाद आपको साइन इन ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आप लैंड कलेक्टर में लॉग इन कर सकेंगे।

विभाग लॉगिन प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको हरियाणा का ई-भूमि पोर्टल मिलेगा। आधिकारिक वेबसाइट जारी रहेगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • आप होम पेज पर विभाग लॉगिन आपको ऑप्शन पर क्लिक करना है।
विभाग लॉगिन प्रक्रिया
  • अब आपके सामने लॉगिन पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना यूजरनेम या ईमेल आईडी, पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • इसके बाद आपको साइन इन ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार का प्रभाव लॉगिन करने में सक्षम होगा।

भूमि की आवश्यकता से संबंधित सूचना प्राप्त करने की प्रक्रिया

भूमि की आवश्यकता की जानकारी
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर आप जमीन की आवश्यकता से संबंधित पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं

प्रबंधक लॉगिन प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको हरियाणा का ई-भूमि पोर्टल मिलेगा। आधिकारिक वेबसाइट जारी रहेगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • आप होम पेज पर प्रबंधक लॉगिन आपको ऑप्शन पर क्लिक करना है।
ई-भूमि पोर्टल हरियाणा
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • इसके बाद आपको साइन इन ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप प्रबंधक लॉगिन करने में सक्षम होंगे।

प्रॉपर्टी डीलर्स एंड कंसल्टेंट्स एक्ट 2008 के नियम के तहत लाइसेंस या नवीनीकरण के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया

केएमपी मानचित्र देखने की प्रक्रिया

ई-भूमि पोर्टल हरियाणा
  • अब आपके सामने एक पीडीएफ फाइल खुलेगी।
  • इस फाइल में आप केएमपी मैप देख सकते हैं।

क्रेता पंजीकरण प्रक्रिया

खरीदार पंजीकरण
  • इसके बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • आपको इस फॉर्म में निम्नलिखित जानकारी दर्ज करनी होगी।
    • मोबाइल नंबर
    • विभाग का नाम
    • आईडी प्रूफ
    • आधार संख्या
  • इसके बाद आपको आईडी प्रूफ की स्कैन कॉपी अपलोड करनी होगी।
  • अब आपको Register as Buyer के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस तरह आप खरीदार पंजीकरण कर सकेंगे।

एग्रीगेटर पंजीकरण प्रक्रिया

एग्रीगेटर पंजीकरण
  • इसके बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • आपको इस फॉर्म में निम्नलिखित जानकारी दर्ज करनी होगी।
    • ईमेल आईडी
    • मोबाइल नंबर
    • आधार संख्या
    • एग्रीगेटर लाइसेंस नंबर
    • एग्रीगेटर लाइसेंस जारी करने की तारीख
    • जिला
    • कैप्चा कोड
  • इसके बाद आपको एग्रीगेटर लाइसेंस अपलोड करना होगा।
  • अब आपको Register SN Aggregator ऑप्शन पर क्लिक करना है।

संपर्क विवरण

  • पता- प्लॉट नंबर: 25-26, सेक्टर 4, पंचकुला-134109, हरियाणा, भारत
  • हेल्पलाइन- +91-172-2561526, +91-172-2560750
  • फैक्स +91-172-2580026 ई-मेल: dlr_consol[at]खेल खेलने के लिए[dot]एनआईसी[dot]में

.

Leave a Comment